Oneclickonpage Blog,categorized जानिए 2024 में blogging website कैसे बनाये और basic tools क्या है |

जानिए 2024 में blogging website कैसे बनाये और basic tools क्या है |

जानिए 2024 में blogging website कैसे बनाये और basic tools क्या है | post thumbnail image

introduction ( परिचय )

ब्लॉगिंग की रोमांचक दुनिया में आपका स्वागत है, जहां रचनात्मकता और अभिव्यक्ति डिजिटल क्षेत्र से मिलती है। क्या आप शब्दों और विचारों की यात्रा में डूबने के लिए तैयार हैं? अब और मत देखो, क्योंकि हम ब्लॉग जगत के माध्यम से एक मनोरम यात्रा पर निकल पड़े हैं।

व्यक्तिगत उपाख्यानों से लेकर मनोरम कहानियों तक, व्यावहारिक समीक्षाओं से लेकर जानकारीपूर्ण लेखों तक, blogging website अनंत संभावनाओं के द्वार खोलती है।  ब्लॉगिंग आपकी आवाज़ को दुनिया भर के पाठकों के साथ गूंजने के लिए एक मंच प्रदान करता है।

उन ब्लॉगर्स के समुदाय में शामिल हों जो अपने शब्दों में जान फूंकते हैं, अपने अनूठे दृष्टिकोण और विचारोत्तेजक सामग्री के माध्यम से पाठकों को आकर्षित करते हैं। लेखन की कला के माध्यम से प्रभावित करने, प्रेरित करने, मनोरंजन करने और शिक्षित करने की शक्ति प्राप्त करें। प्रत्येक ब्लॉग पोस्ट के साथ, आपके पास एक स्थायी प्रभाव बनाने, संबंध बनाने और सार्थक बातचीत को बढ़ावा देने का मौका होता है।

तो, अपना वर्चुअल पेन पकड़ें और अपनी कल्पना का द्वार खोलें। अपनी रचनात्मकता को उजागर करें, अपनी विशेषज्ञता साझा करें और अपनी प्रामाणिक आवाज को डिजिटल परिदृश्य में गूंजने दें। ब्लॉगिंग की दुनिया में आपका स्वागत है, जहां आपके शब्दों में दिमाग को प्रज्वलित करने, दिलों को छूने और दुनिया को आकार देने की शक्ति है।

जानिए 2024 में blogging website कैसे बनाये और basic tools क्या है |

2024 में blogging website कैसे बनाये और basic tools

2024 में blogging website शुरू करने के लिए बुनियादी उपकरण-

2024 में blogging website शुरू करने के लिए दक्षता और सहज ब्लॉगिंग अनुभव सुनिश्चित करने के लिए कुछ आवश्यक टूल की आवश्यकता होती है। यहां वे बुनियादी उपकरण हैं जिनकी आपको आवश्यकता होगी:-

1. कन्टेंट प्रबंधन प्रणाली (सीएमएस):

सीएमएस एक सॉफ्टवेयर प्लेटफ़ॉर्म है जो आपके ब्लॉग कन्टेंट को बनाने, प्रबंधित करने और प्रकाशित करने में आपकी सहायता करता है | इसके लिए फ्री ब्लॉगर या फिर पेड wordpress की सर्विस ले सकते है वर्डप्रेस अपनी उपयोगकर्ता-मित्रता, व्यापक सामुदायिक समर्थन और अनुकूलन योग्य सुविधाओं के कारण एक लोकप्रिय सीएमएस विकल्प है। wordpress अपने कस्टमर को बहुत सारे tools free में avilable करता है जैसे थीम ,प्लगइन ,टेम्प्लेट इत्यादि |

2. डोमेन नाम और होस्टिंग:

अपने ब्लॉग की ऑनलाइन उपस्थिति स्थापित करने के लिए, आपको एक डोमेन नाम (जैसे, www.oneclickonpage.com) और विश्वसनीय होस्टिंग सेवाओं की आवश्यकता होगी। ऐसा डोमेन नाम चुनें जो आपके ब्लॉग की पहचान और ब्रांडिंग को दर्शाता हो और एक होस्टिंग प्रदाता चुनें जो अच्छा प्रदर्शन और समर्थन प्रदान करता हो। इसके लिए कई सारे platform उपलब्ध है | जहा से आप domain और होस्टिंग purchage कर सकते है जैसे hostinger,godaddy इत्यादि  से अपना unique डोमन और होस्टिंग buy करे यहाँ से डोमन और होस्टिंग purchage करने पर customer support के साथ कई सारे tools मिलेंगे जो आप के ब्लॉग के लिए जरुरी है |अगर आप मेरे लिंक से purchage करोगे तो आप को 20% का डिस्काउंट मिलेगा 

may you like https://hostinger.in?REFERRALCODE=1VIPINKUMAR42

3. ब्लॉग थीम:-

एक ब्लॉग थीम आपके ब्लॉग का दृश्य स्वरूप और लेआउट निर्धारित करती है। एक साफ़, संवेदनशील और अनुकूलन योग्य थीम चुनना आवश्यक है जो आपके कंटेंट क्षेत्र के साथ संरेखित हो और उपयोगकर्ता अनुभव को बढ़ाए। वर्डप्रेस कई निःशुल्क और प्रीमियम थीम प्रदान करता है जिन्हें आप एक्सप्लोर कर सकते हैं। अपने ब्लॉग के लिए थीम ऐसा use करे जो litly ,smothly ओपन हो जो कस्टम और बढ़िया हो जिसे आप अपने हिसाब से एडिट कर सकेएवं design कर सके |

4. Niche:-

ब्लॉग के लिए पोस्ट लिखने से पहले आप को एक niche की आवश्यकता होगी जिसके अंतर्गत categary बना सके और अपने पोस्ट को सबमिट किया जा सके इसके लिए 3 प्रकार के niche होते है आप अपने जानकारी के हिसाब से चुन सकते है |

1.single niche- 

single niche का मतलब किसी एक विषय पर पोस्ट हो जैसे – cricket,food,faishon इत्यादि टॉपिक शामिल होते है |

2.multi niche-

multi niche का तात्पर्य इसमें आप कई सारे टॉपिक विषय चुन सकते है जो एक से अधिक विषय होते है जैसे – न्यूज़ इत्यादि होते है |

3.micro niche-

micro niche में कोई स्माल niche होता है जो बहुत कम लोग इस पर आर्टिकल डालते है लेकिन इस पर ट्रैफिक बहुत आता है और cpc हाई होती है जिसमे  AR,VR box, smartphone, smart watch टॉपिक होते है |

5.अवश्यक Page और keyword-

ब्लॉग के लिए पोस्ट लिखने से पहले कुछ अवश्यक पेज और कीवर्ड की जरुरत होगी जिसे बनाना बहुत ही जरुरी है अन्यथ google adsence का अप्रूवल नहीं मिलेगा |

PAGE-

कन्टेंट लिखने के लिए सबसे मुख्य कीवर्ड होता है जिसे आप अपने ब्लॉग पोस्ट में उपयोग करते है इसी के आधार पर आप के पोस्ट पर ट्राफिक आता है इसी लिए इसे बहुत ही समझदारी से ट्रेंडिंग कीवर्ड चुनने की आवश्यकता होती है |

keyword मुख्यतः 4 प्रकार के होते है |

1.शॉर्ट-टेल 2. लॉन्ग-टेल 3. प्रश्न 4.इंटेंट टारगेटिंग कीवर्ड

6. कन्टेंट निर्माण उपकरण-

ब्लॉग कन्टेंट बनाने और संपादित करने के लिए, आपको निम्न जैसे उपकरणों की आवश्यकता होगी |

टेक्स्ट एडिटर-

आपके ब्लॉग पोस्ट को लिखने और संपादित करने के लिए एक बुनियादी टेक्स्ट एडिटर (उदाहरण के लिए, नोटपैड, ms world) या व्याकरण और वर्तनी जांच के लिए ग्रामरली जैसा अधिक अत्याधुनिक एडिटर होना चाहिए अगर आप worpess इस्तेमाल करते है तो आप उसके कई सारे plugin एडिटर है जैसे claasic editor,gutanbarg या फिर उसका लेटेस्ट एडिटर प्रयोग कर सकते है जिसमे एडिट करने के tools उपलब्ध है |

दृश्य कन्टेंट निर्माण-

आपके ब्लॉग पोस्ट को बढ़ाने के लिए विशेष रुप से प्रदर्शित चित्र, ग्राफिक्स और इन्फोग्राफिक्स डिजाइन करने के लिए कैनवा या एडोब फोटोशॉप जैसे उपकरण।
व्याकरण और वर्तनी जांचकर्ता: ग्रामरली या हेमिंग्वे संपादक जैसे सॉफ़्टवेयर यह सुनिश्चित करते हैं कि आपका  कन्टेंट त्रुटि रहित और व्याकरणिक रूप से सुदृढ़ है।

7. SEO प्लगइन्स:-

आपके ब्लॉग पर ऑर्गेनिक ट्रैफ़िक आकर्षित करने के लिए सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन (SEO) महत्वपूर्ण है। Yoast SEO या रैंक मैथ जैसे SEO प्लगइन्स इंस्टॉल करें जो आपके ब्लॉग पोस्ट, मेटा टैग को अनुकूलित करने और समग्र SEO प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए टूल प्रदान करते हैं। ब्लॉग का सबसे बड़ा पार्ट seo होता है अगर सही तरीका से on page seo या फिर off page seo किये है तो आप के पोस्ट को google में आने की सम्भावना होती है और ट्राफिक भी आएगा  इसलिए seo सही से करे |

8. Google एनालिटिक्स टूल:-

अपने ब्लॉग की प्रगति पर नज़र रखना और उपयोगकर्ता के व्यवहार में अंतर्दृष्टि प्राप्त करना महत्वपूर्ण है। वेबसाइट ट्रैफ़िक, उपयोगकर्ता सहभागिता, जनसांख्यिकी और अन्य प्रमुख मैट्रिक्स पर नज़र रखने के लिए Google Analytics सेट करें। यह आपको अपने दर्शकों को समझने और उसके अनुसार अपनी कन्टेंट तैयार करने में मदद करता है।

9. Google सर्च कंसोल:-

अपने पोस्ट को google के सर्च में लाने के लिए google search console में आप अपने पोस्ट के लिंक को index करना होगा जिससे आप के पोस्ट पर ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक आ सके और आप की इनकम हो सके |

10. सोशल मीडिया एकीकरण:-

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के साथ एकीकरण आपके ब्लॉग पोस्ट को बढ़ावा देने और शेयर करने के लिए अत्यधिक फायदेमंद है। पाठकों को फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन या इंस्टाग्राम whattsaap जैसे प्लेटफार्मों पर अपनी कन्टेंट शेयर करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए social media बटन या प्लगइन जोड़ें। जिसे यूजर सोशल मीडिया पर शेयर कर सके |

11. ईमेल मार्केटिंग टूल:-

एक ईमेल सूची बनाने और अपने ब्लॉग दर्शकों के साथ जुड़ने के लिए, Mailchimp या ConvertKit जैसे ईमेल मार्केटिंग टूल का उपयोग करने पर विचार करें। ये प्लेटफ़ॉर्म आपको अपने ईमेल अभियानों को डिज़ाइन, स्वचालित और विश्लेषण करने में सक्षम बनाते हैं।

12. बैकलिंक:-

आप के पोस्ट की ranking और ट्रैफिक लाने के लिए आप को backlink की आवश्यकता होगी जो किसी अन्य वेबसाइट से लेनी होती है जिसका DA,PA domain authority,page authority हाई हो उसी से backlink लेना चाहिए |

Backlink दो प्रकार का होता है |

1.Dofollow backlink

2.Nofollow backlink

13. बैकअप और सुरक्षा प्लगइन्स:-

updraftplus या wordfens जैसे बैकअप और सुरक्षा प्लगइन्स इंस्टॉल करके अपने ब्लॉग की सुरक्षा और स्थिरता सुनिश्चित करें। ये उपकरण आपके ब्लॉग का नियमित बैकअप बनाने, संभावित सुरक्षा खतरों से बचाने और किसी भी जोखिम को कम करने में आपकी मदद करते हैं।

14. निष्कर्ष:-

यदि आप किसी टीम या फ्रीलांस योगदानकर्ताओं के साथ काम करने की योजना बना रहे हैं, तो Google डॉक्स, ट्रेलो या आसन जैसे सहयोग उपकरण कन्टेंट योजना, कार्य प्रबंधन और निर्बाध सहयोग के लिए सहायक हो सकते हैं। जिस भी tools का जिक्र इस पोस्ट में किया गया है वो बहुत ही महत्वपूर्ण है आप के ब्लॉगिंग carrier के लिए |

याद रखें, ये उपकरण आपकी ब्लॉगिंग यात्रा के लिए आधार के रूप में काम करते हैं, और जैसे-जैसे आप आगे बढ़ते हैं और अपनी ब्लॉगिंग रणनीति को परिष्कृत करते हैं, आप हमेशा अतिरिक्त टूल तलाश और शामिल कर सकते हैं। इन सभी tools को आप अच्छी तरह से use करना सिख गए तो आप के पोस्ट को रैंक करने में आसानी हो और आप एक सफल ब्लॉगर बन सकते है बाकि यहाँ तक पढ़ने के लिए आप का धन्यवाद हमारी शुभकामनाये आप को |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post

2024 में online paise kaise kamaye आजमाए विश्व के top 5 तरीकों को

2024 में online paise kaise kamaye आजमाए विश्व के TOP 5 तरीकों को2024 में online paise kaise kamaye आजमाए विश्व के TOP 5 तरीकों को

साल 2024 में ऑनलाइन पैसे कमाने के अनगिनत मौके हैं। बढ़ती डिजिटल कनेक्टिविटी और दूरस्थ कार्य की ओर वैश्विक बदलाव के साथ, ऑनलाइन बाज़ार दुनिया भर के व्यक्तियों के लिए

जानिए UPI payment और phonepe,Gpay पर भारत सरकार का प्लान और सिकंजा

जानिए UPI payment और phonepe,Gpay पर भारत सरकार का प्लान और सिकंजाजानिए UPI payment और phonepe,Gpay पर भारत सरकार का प्लान और सिकंजा

भारत सरकार ने डिजिटल लेनदेन के लिए upi (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) के उपयोग को बढ़ावा देने और प्रोत्साहित करने के लिए कई पहल की हैं। UPI payment एक उपयोगकर्ता-अनुकूल और

Blog me keyword कैसे काम करता है?Blog me keyword कैसे काम करता है?

सर्च इंजन के लिए ब्लॉग पोस्ट को अनुकूलित करने में कीवर्ड महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। जब कोई उपयोगकर्ता Google जैसे सर्च इंजन में कोई क्वेरी टाइप करता है, तो सर्च